बिटकॉइन क्या है? What is bitcoin in hindi

5/5 - (1 vote)

बिटकॉइन क्या है? ( What is bitcoin ) बिटकॉइन एक ऐसी डिजिटल करेंसी है, जो यह की पूरी तरह से मुक्त रूप से कार्य करता है, यानी कि विच करंसी के ऊपर किसी भी सरकार या बैंक का कंट्रोल नहीं रहता। यह करेंसी पूरी तरह से वर्चुअल होती है। इस करेंसी को आप कैसे हो ऑनलाइन वर्जन भी समझ सकते हैं।

क्योंकि बिटकॉइन की एक विकेंद्रीकृत डिजिटल नकदी ( decentralized digital cash ) होती है। इसलिए पियर-टू-पियर कंप्यूटर नेटवर्क ( peer- to- peer ) ( computer network ) का इस्तेमाल किया जाता है। यानी की यहां खरीदारी को ऑनलाइन कंफर्म ग्राहक के द्वारा होता है। और इस लेन – देन में किसी भी बैंक क्या सरकार का हस्तक्षेप बिल्कुल नहीं होता है। और ना ही मुझे इसके बारे में पता चलता है।

आजकल ऑनलाइन और इंटरनेट की सहायता से पैसे कमाना भी बहुत आसान हो गया है। बहुत सारे तरीके हैं, जिससे की इंटरनेट के द्वारा हम घर बैठे ही पैसे कमा सकते हैं। बिटकॉइन भी उन सभी तरीकों में से एक है। जिसके द्वारा हम बहुत पैसा कमा सकते हैं।

बिटकॉइन के बारे में आप लोगों में से कुछ लोगों ने तो सुना ही होगा। और जिन्हें इसके बारे में नहीं पता है, तो उन्हें आज इस लेख के द्वारा पता चल जाएगा जी, हां आज मैं इस लेख में बिटकॉइन क्या है इसके बारे में विस्तार रूप से बताने वाला हूं।

बिटकॉइन क्या है? – Bitcoin kya hai

बिटकॉइन एक ऐसी केंद्रीय मुद्रा है, जिसका अर्थ है कि यह किसी विशिष्ट देश की मुद्रा से इसका संबंध नहीं है। यह ब्लाकचैन तकनीक से बनी एक मुद्रा है। जिसका अर्थ यह है कि, बिटकॉइन के साथ वह सारे लेनदेन सार्वजनिक रूप से कालानूक्रमित रूप से वह ब्लाकचैन पर संग्रहित किए जाते हैं। इसका मतलब यह है, कि कोई भी व्यक्ति अब तक किए गए लेनदेन को देख सकता है।

2009 मैं इस बिटकॉइन को एक व्यक्ति या समूह द्वारा सतोषी नाकामाता ( satoshi nakaMata ) नाम से पेश किया गया था। इस बिटकॉइन का मतलब एक नकदी डिजिटल संस्करण बनाने का एक तरीका था। जहां एक व्यक्ति को दूसरे व्यक्ति के संस्थापक द्वारा या बिना आपस में लेनदेन माध्यम से भुगतान किए बिना भुगतान किया जा सकता है। जो इस प्रक्रिया के लेन-देन के भुगतान के लिए सूट ले सकते हैं। इस प्रक्रिया के समय और चनिया काम को धीमा कर सकते हैं।

इस बिटकॉइन का इस्तेमाल कोई भी कर सकता है अपने मोबाइल मैं इंटरनेट का इस्तेमाल करते हैं, उसका भी कोई मालिक नहीं है। प्रकार ठीक बिटकॉइन का भी कोई मालिक नहीं है।

Wikipedia —- बिटकॉइन क्या है?

बिटकॉइन का इस्तेमाल कैसे किया जाता है? bitcoin ka istemal kaise kiya jata hai

बिटकॉइन क्या है? हम इसका इस्तेमाल ऑनलाइन पेमेंट करने के लिए या किसी प्रकार के ट्रांजैक्शन ( लेन देन ) करने के लिए कर सकते हैं। बिटकॉइन पियर-टू-पियर नेटवर्क आधारित पर काम करता है। जिसका मतलब यह है कि लोग एक दूसरे के साथ बिना किसी बैंक का कंपनी के माध्यम से आसानी से लेनदेन कर सकते हैं‌। बिटकॉइन को लेन-देन में इस्तेमाल करने के लिए सबसे तेज और सबसे अच्छा माना जाता है। आजकल बहुत से लोग बिटकॉइन को खरीद रहे हैं। जैसे ऑनलाइन डेवलपर्स, उद्यमी, गैर-लाभकारी संगठन इत्याद, और उसकी वजह से बिटकॉइन का इस्तेमाल पूरी दुनिया में वैश्विक भुगतान ( global payment ) के रूप में किया जाता है।

ऐसे की करेंसी का इस्तेमाल हम ऑनलाइन लेनदेन के लिए करते हैं। तो बैंक के भुगतान प्रक्रिया का पालन करना होता है तभी जाकर हम भुगतान कर सकते हैं। और हमारे किए गए हर लेन-देन के भुगतान का हिसाब बैंक में मौजूद जाता है। जिससे पता चल जाता है कि, पैसे कहां हो कब खर्च किए गए हैं। 1 बिटकॉइन का तो कोई भी मालिक नहीं है। इसलिए इसके साथ किए गए लेन-देन का सर्वजनिक आते हैं रिकॉर्ड दर्ज होता रहता है। जिसे बिटकॉइन ब्लाकचैन ( “” bitcoin blackchain “” ) कहते हैं। बिटकॉइन के साथ किए गए किसी भी लेनदेन का विवरण स्टोर होता रहता है। और वही ब्लाकचैन का प्रमाण होता रहता है। की बिटकॉइन का लेन-देन हुआ है या नहीं।

बिटकॉइन आज का रेट – bitcoin wallet kya hai

बिटकॉइन की कीमत आज के दिन मैं करीब $ 16,456 है। इसका मतलब बिटकॉइन की कीमत ₹13,65,000 है। इस बिटकॉइन की कीमत कम या ज्यादा होती रहती है। क्योंकि इसे नियंत्रण करने के लिए कोई भी प्रदीकरण ( authority ) नहीं है। इसलिए इस उत्पाद की कीमत मांग के हिसाब से घटती जा बढ़ती रहती है।

बिटकॉइन वॉलेट क्या है? – bitcoin wallet kya hai

हम इस बिटकॉइन को केवल इलेक्ट्रॉनिक रूप से स्टोर करके रख सकते हैं। उसको इनको रखने के लिए बिटकॉइन वॉलेट ( bitcoin wallet ) की जरूरत होती है। बिटकॉइन वॉलेट कई प्रकार के होते हैं, जैसे- डेस्कटॉप वॉलेट (desktop wallet ) , मोबाइल वॉलेट ( mobile wallet ), ऑनलाइन / बेव आधारित वॉलेट( online wave aadharit wallet ), हार्डवेयर वॉलेट ( hardware wallet ) इसमें से एक वॉलेट का इस्तेमाल कल बिटकॉइन अकाउंट बनाने के लिए कर सकते हैं।

यह वॉलेट हमें पता ( address ) के रूप में एक अनोखी आईडी प्रदान करती है। मान लीजिए की जैसे आपने कहीं से बिटकॉइन कमाया है और उस बिटकॉइन को अपने बिटकॉइन वॉलेट मिस कॉल करना है , तो आपको वहां उस पता की जरूरत पड़ेगी। और उसी की सहायता से आप उस बिटकॉइन को अपने वाले रूम में रख सकते हैं।

उसके अलावा अगर आपको बिटकॉइन खरीदना हो तो आप को बिटकॉइन टॉयलेट की जरूरत पड़ेगी। और उसके बाद अगर आप कोई बिटकॉइन भेजते हैं तो उसके बदले आपको जितने भी पैसे मिलते हैं, आप उस पैसे को सीधा ही है बिटकॉइन वॉलेट के जरिए उस पैसे को बैंक अकाउंट में ट्रांसफर कर सकते हैं।

क्या है बिटकॉइन, कैसे काम करती है और कितनी सुरक्षित है, यहां मिलेगा जवाब

बिटकॉइन कैसे कमाए – bitcoin Kese kamaye

बिटकॉइन कमाने के बहुत सारे तरीके हैं, पर हम सिर्फ 3 तरीकों के ही बारे में बात करेंगे। इन तरीकों से आप बहुत ही आसानी से बिटकॉइन कमा सकते हैं।

  1. अगर आपके पास कैसा है तो, आप सीधे तौर पर 1 बिटकॉइन खरीद सकते हैं 1 बिटकॉइन आप सीधे तौर पर $999 देकर खरीद सकते हैं। यह भी जरूरी नहीं है कि अगर आपको बिटकॉइन खरीदना है, तो आपको पूरे पैसे देने होंगे आप चाहे तो बिटकॉइन की सबसे छोटी यूनिट ( unit ) ( satoshi )भी खरीद सकते हैं। जैसे कि आप जानते हैं कि हमारे भारत में 1 रुपए में 100 पैसे होते हैं। उसी प्रकार 1 बिटकॉइन में 10 करोड़ सतोषी ( satoshi ) होते हैं। अगर आप चाहे तो बिटकॉइन के छोटे रकम सतोषी को खरीद कर धीरे-धीरे आप बिटकॉइन कोड इकट्ठा कर सकते हैं। जब आपके पास एक या एक से अधिक बिटकॉइन इकट्ठाा हो जये तब आप उस बिटकॉइन को बेचकर अच्छा खासा पैसा कमा सकते हैं।
  2. दूसरा तरीका यह है, कि पर आप ऑनलाइन कोई भी सामान बेच रहे हैं, तो अगर उस खरीदार के पास बिटकॉइन है तो आप उस बिटकॉइन को उस खरीदार से पैसे के बदले ले सकते हैं। ऐसे में आपको बिटकॉइन सामान के बदले में मिल जाएगा और आप उस बिटकॉइन को बिटकॉइन वॉलेट में स्टाल कर सकेंगे। इससे आपका बिटकॉइन भी बढ़ता जाएगा और बाद में आप चाहे तो उस बिटकॉइन को ज्यादा दाम में बेच कर अधिक पैसा कमा सकते हैं।
  3. तीसरा तरीका बिटकॉइन माइनिंग का है। इसके लिए हमें एक कंप्यूटर की आवश्यकता पड़ती है। जोकि हाई स्पीड प्रोसेसर से लैस हो, और उसका हार्डवेयर अच्छा हो। इस बिटकॉइन का ऑनलाइन पेमेंट के द्वारा ही लेन-देन किया किया जाता है। जब कोई बिटकॉइन को पेमेंट करता है तब ट्रांजैक्शन को वेरीफाई ( verify ) किया जाता है।

और जो इस बिटकॉइन पेमेंट को वेरीफाई करते हैं उन्हें माइनर कहा जाता है। और उन माइनर के पास हाई स्पीड प्रोसेसर प्लेस कंप्यूटर और सीपीयू होता है। और वह इसके जरिए ट्रांजैक्शन को वेरीफाई करते हैं। जिससे यह पता चलता है कि ट्रांजैक्शन में कोई हेरा फेरी तो नहीं है। इस वेरिफिकेशन के बदले उन्हें बिटकॉइन इनाम के रूप में मिलता है। और इस तरीके से नया बिटकॉइन मार्केट में आता है।

यह माइनिंग का कार्य कोई भी कर सकता है। पर इसके लिए आपको हाई स्पीड लेस प्रोसेसर वाले कंप्यूटर की आवश्यकता पड़ती है। जिसे खरीदना हर किसी व्यक्ति के बस में नहीं होता है। क्योंकि यह कंप्यूटर बहुत महंगा आता है। जैसे हर एक देश में करेंसी को छापने की एक सीमा होती है। इसी प्रकार बिटकॉइन की भी एक सीमा होती है। बिटकॉइन जो की 21 मिलीयन से ज्यादा मार्केट में नहीं आ सकते। जाने की बिटकॉइन की अधिक सीमा सिर्फ मिलियन तक है इससे ज्यादा बिटकॉइन मार्केट में नहीं आ सकते।

इस समय की बात करें तो, मार्केट में सिर्फ 13 मिलियन बिटकॉइन आ चुके हैं। और जो नए बिटकॉइन हैं, वह सिर्फ माइनिंग के जरिए आ सकते हैं। जिससेेे माइनिंग करके भी अच्छा खासा पैसा कमाया जा सकता है।

बिटकॉइन क्या होता है?

बिटकॉइन माइनिंग क्या है – bitcoin mining kya hai

( करेंसी ) मुद्रा किसी भी देश में नोट छापने की एक सीमा होती है। वैसे ही बिटकॉइन भी सीमित मात्रा में है। इसमें भी लिमिट लगा हुआ है। विश्व मार्केट में बिटकॉइन की जो संख्या है, वह 21 मिलियन ( 2 .10 करोड़ ) है। जो कि इससे ज्यादा नही आ सकते हैं। फिलहाल बिटकॉइन विश्व मार्केट में 13 मिलियन ( 1.30 करोड़ ) के करीब है। और जो नए बिटकॉइन है, वह माइनिंग के जरिए ही आ सकते हैं। मार्केट में हर साल माइनिंग केे द्वारा बिटकॉइन की संख्या बढ़ती जा रही है। परंतुुु जब बिटकॉइनब 21 मिलियन तक पहुंच जाएगा तब माइनिंग का कार्य बंद हो जाएगा तब बिटकॉइन सीमित मात्रा में ही रहा जाएंगे। तब सिर्फ उन्हीं बिटकॉइन का लेनदेन होताा रहेगा।

बिटकॉइन के फायदे – bitcoin ke fayde

  1. यहां पर आपने जो बिटकॉइन खरीदा है, पैसे ट्रांसफर करने में जो फीस लगता है। वह फीस डेबिट कार्ड और क्रेडिट कार्ड के मुकाबले बहुत ही कम लगता है।
  2. अनापुर बिटकॉइन को पूरी दुनिया में कहीं भी और कहीं भी भेज सकते हैं, वह भी बिना किसी परेशानी के।
  3. लंबे समय तक अगर आप बिटकॉइन में मोस्ट करना चाहते हैं तो इसमें आपको काफी फायदे हो सकते हैं क्योंकि बिटकॉइन की कीमत कटती वह बढ़ती रहती है।
  4. यहां पर आपको बिटकॉइन का अकाउंट ब्लॉक होने का कोई खतरा नहीं होता।
  5. इसमें सबसे बड़ा फायदा यह है, कि बिटकॉइन की लेनदेन मैं सरकार का कोई योगदान नहीं होता। और ना ही वह आप पर नजर रख पाते हैं। बहुत लोग इस बिटकॉइन का इस्तेमाल गलत कार्य के लिए भी करते हैं, जो कि बहुत ही फायदेमंद होता है।

बिटकॉइन के नुकसान bitcoin ke nuksan

  1. इस बिटकॉइन को कंट्रोल करने के लिए कोई भी प्राधिकरण ( संस्थापक ) नहीं है। जिसके वजह से इस बिटकॉइन पर किसी का भी कंट्रोल नहीं रहता। नाही बैंक का और ना ही सरकार का इसीलिए इसकी कीमत घटती व बढ़ती रहती है।
  2. अगर किसी हैकर द्वारा आपका अकाउंट एक हो जाता है तो आप अपने सारे बिटकॉइन को खो देंगे। और आप इसे वापस नहीं जा पाएंगे और ना ही इसे वापस लाने में कोई आपकी सहायता कर सकता है।

बिटकॉइन कैसे खरीदें – bitcoin kese Kharide

आप बिटकॉइन की खरीद वैसे ही कर सकते हैं, जैसे कि आप अन्य कोई वस्तु को खरीदते हैं। बस इतना ही फर्क है है कि इसे आपको ऑनलाइन ही खरीदना पड़ेगा। आप अगर चाहते हैं तो इसे भारतीय मुद्रा में भी खरीद सकते हैं भारत में ऐसे कई वेबसाइट हैं। जहां से आप बिटकॉइन को खरीद सकते हैं। वह भी अपने ही मुद्रा में। इन वेबसाइट में डॉट कॉम इनकी कीमत का भी पता चल जाएगा और अगर मौजूदा समय में आपको भी कॉइन की पूरी जानकारी चाहिए तो आप इस वेबसाइट के जरिए पूरी जानकारी प्राप्त कर सकते हैं—

  1. Wazirx
  2. unocoin
  3. zebpay

what is Bitcoin? How to Mine, bit, and use it

बिटकॉइन किस देश की करेंसी है – bitcoin kis desh ki currency hai

इस ऐतिहासिक कदम में, 9 जून को अल साल्वाडोर देश बिटकॉइन को कानूनी विनीता के रूप में अपनाने के लिए कानून पारित करने वाला दुनिया का पहला देश बन गया।

बिटकॉइन इंडिया में लीगल है या नहीं – bitcoin Indian legal hai ya nahi

बिटकॉइन इंडिया में लीगल है और बहुत ही ज्यादा लोकप्रिय भी है।

भारत में क्रिप्टो करेंसी या बिटकॉइन कैसे खरीदें – india me bitcoin kaise kharide

क्रिप्टो करेंसी भारत में कई वेबसाइटों के द्वारा खरीदा जा सकता है। जिसमें से —

  1. wazirx
  2. unocoin
  3. zebpay

आज आपने क्या सीखा

बिटकॉइन क्या है? इससे जुड़ी यह कुछ जानकारी, हमें उम्मीद है कि आपको समझ में आया होगा कि बिटकॉइन क्या है?( What is bitcoin ) बिटकॉइन को कैसे खरीदा जा सकता है। या उसके क्या-क्या फायदे और नुकसान हैं।

हमें आशा है कि आपको हमारा यह पोस्ट पसंद आया होगा। अगर इस पोस्ट में कोई भी गलती हो या अगर इसमें कुछ लिखा छूट गया हो तो आप उसे कमेंट के जरिए हमें बता सकते हैं। और अगर यह पोस्ट आपके लिए थोड़ा भी लाभदायक रहा हो, तो आप इसे अन्य सोशल मीडिया तक भी शेयर करें। धन्यवाद !!

What is Bitcoin?

related keyboards

  1. बिटकॉइन किसे कहते हैं?
  2. बिटकॉइन किस देश की करेंसी है
  3. बिटकॉइन का मालिक कौन है
  4. बिटकॉइन कैसे खरीदें
  5. बिटकॉइन कैसे काम करता है
  6. 1 बिटकॉइन की कीमत कितनी है
  7. बिटकॉइन का इतिहास
  8. बिटकॉइन का भविष्य
  9. बिटकॉइन प्राइस
  10. बिटकॉइन किसने बनाया
  11. बिटकॉइन कितने रुपए का है
  12. बिटकॉइन शेयर कितने का है
  13. बिटकॉइन में निवेश कैसे करें
  14. बिटकॉइन में इन्वेस्ट कैसे करें
  15. बिटकॉइन माइनिंग क्या होता है
  16. बिटकॉइन माइनिंग क्या है
  17. बिटकॉइन से क्या फायदा है
  18. बिटकॉइन कैसे खरीदें क्या है बिटकॉइन
  19. क्या है बिटकॉइन
  20. 2009 में बिटकॉइन की कीमत क्या थी
  21. बिटकॉइन इंडिया में लीगल है या नहीं
  22. बिटकॉइन कौन से देश की मुद्रा है
  23. मुझे बिटकॉइन क्यों खरीदना चाहिए
  24. बिटकॉइन क्या है कैसे काम करती है
  25. बिटकॉइन क्या है हिंदी में
  26. बिटकॉइन क्या चीज है
  27. बिटकॉइन क्या है इन हिंदी
  28. बिटकॉइन क्या भाव है
  29. बिटकॉइन क्या होता है
  30. बिटकॉइन क्या रेट है
  31. बिटकॉइन क्या है बताएं
  32. बिटकॉइन क्या है in Hindi
  33. बिटकॉइन खरीदने के लिए मुझे कितना चाहिए
  34. बिटकॉइन फ्री में कैसे कमाए
  35. bitcoin kya hai in Urdu
  36. बिटकॉइन क्या है ऑनलाइन कैसे करें

Leave a Comment